When does the tide-reflux come in the sea

Description

The elevation of the level of the water level of the oceans on the Earth is called tidal and downfall is called Bhatia. The phenomenon of jawar reflux does not apply to the ocean only, but it applies to all those things which have a dynamic gravity force with time and space. (Even on solid ground)

धरती पर स्थित सागरों के जल-स्तर का सामान्य-स्तर से उपर उठना ज्वार तथा नीचे गिरना भाटा कहलाता है। ज्वार-भाटा की घटना केवल सागर पर ही लागू नहीं होती बल्कि उन सभी चीजों पर लागू होतीं हैं जिन पर समय एवं स्थान के साथ परिवर्तनशील गुरुत्व बल लगता है। (जैसे ठोस जमीन पर भी)

The functioning of the mutual gravitational force of Earth, Moon, and Sun is the main reason for the origin of tide-reflux.

पृथ्वी, चन्द्रमा और सूर्य की पारस्परिक गुरुत्वाकर्षण शक्ति की क्रियाशीलता ही ज्वार-भाटा की उत्पत्ति का प्रमुख कारण हैं।

Types of tide-reflux (ज्वार-भाटा के प्रकार)

(1) उच्च ज्वार (High tides)

When the sun, the earth, and the moon are in a straight line

जब सूर्य, पृथ्वी तथा चन्द्रमा एक सीध में होते हैं।

(2) निम्न ज्वार (Low tide)

When the Sun, Earth, and Moon are in the right angle

जब सूर्य, पृथ्वी तथा चन्द्रमा समकोण अवस्था में होते हैं।