Bharatpur District Information About Keoladeo,Famous Places, Fairs And Temples

Computer, Rajasthan Districts 0 Comments

Bharatpur District Information About Keoladeo,Famous Places, Fairs And Temples

bharatpur-district-map
bharatpur-district-map

भरतपुर की प्रशासनीक इकाईयां Administrative units of Bharatpur

Position = 26 022 “270 50 ‘north latitude

= 760 53 ‘780 16′ east longitude

Area is 5066 square kilometers

Subsection = 10

Tehsil = 10

Panchayat Samiti = 9

Division – Bharatpur, Rajasthan Note 4 June 2005 made its seventh division

Founded in 1722 = Badan Singh earned the king Suraj Mal Jat ruler, King founded the Bharatpur city established its own state

Other Names = Bharatpur in Rajasthan is also called the gateway or tube-door.

स्थिति = 26०22′ से 27० 50′ उत्तरी अक्षांश

76० 53′ से 78० 16’  पूर्वी देशांतर

क्षेत्रफल = 5066 वर्ग किलोमीटर

उपखण्ड = 10

तहसील =10

पंचायत समिति = 9

संभाग – भरतपुर Note 4 जुन 2005 को राजस्थान का सातवां संभाग  बनाया

स्थापना = 1722 मे बदन सिंह ने राजा की उपाधि प्राप्त की जाट शासक राजा सूरजमल ने  भरतपुर शहर की स्थापना कर अपना राज्य की स्थापित किया

अन्य नाम = भरतपुर को राजस्थान का प्रवेश द्वार या पुर्वी द्वार भी कहा जाता है।

महत्वपुर्ण जानकारी (Important information)

Rath moved resolutions – Alwar and Bharatpur districts of Haryana border region seems to say it Rath moved resolutions.

Alwar, Bharatpur and Dholpur districts of the states of Rajasthan and Uttar Pradesh on the basis of similarity in the linguistic integration time wanted to meet.

Meo peasant movement – led from 1932 to 1933, Dr. Mohamed Ali was

Bharatpur is bordered by the states bordering Haryana and Uttar Pradesh.

Antrajyiy the smallest division in the border area.

Noh – here are the remains Kushankalin

Bharatpur district of Rajasthan Sampuarn literate districts were also included

राठ – अलवर व भरतपुर जिलो का वह क्षेत्र जो हरियाणा की सीमा से लगता है उसे राठ कहते है।

अलवर, भरतपुर व धौलपुर जिले की रियासतें राजस्थान के एकीकरण के समय भाषायी समानता के आधार पर उत्तरप्रदेश में मिलना चाहती थी।

मेव किसान आन्दोलन – 1932 से 1933 नेतृत्व डा. मोहम्मद अली ने किया था

भारतपुर की सीमा हरियाणा व उत्तरप्रदेश राज्यो से लगती है।

अन्तराज्यीय सीमा पर क्षेत्रफल में सबसे छोटा संभाग।

नोह – यहा पर कुषाणकालीन अवशेष प्राप्त हुए हैं

राजस्थान के सम्पुर्ण साक्षर जिलों में भरतपुर जिले को भी शामिल किया गया है।

Canal Bharatpur – Bharatpur in Rajasthan and Madhya Pradesh states in 1960 was the beginning of the canal as it was completed in 1964. The canal has benefited enormously from the Bharatpur district.

Ruparal (Warah / Lswari) – This river originates from Thanagaji in Alwar district, in Bharatpur ends. Baratha Ajan Dam and the dam is located in the Bharatpur district.

Moti Lake – This lake is located in the city of Bharatpur. The use of this water is used for irrigation.

भरतपुर नहर – राजस्थान व उत्तरप्रदेश राज्यो के मध्य भरतपुर नहर की शरूआत 1960 में की गयी थी ओर यह 1964 में बनकर पूर्ण हुई। तथा इस नहर से भरतपुर जिले को अत्यधिक लाभ हुआ है।

रूपारैल(वाराह/लसवारी) – यह नदी अलवर जिले के थानागाजी से निकलती है, भरतपुर में समाप्त हो जाती है। तथा अजान बांध व बांध बैराठा भरतपुर जिले मे स्थित है।

मोती झील – यह झील भरतपुर नगर में स्थित है। ओर इसका पानी सिंचाई के लिए उपयोग में लिया जाता है।

Keoladeo dense – The National Park is also known by the name of Bharatpur National Park. In 1982 it was declared a national park and UNESCO World Natural Heritage List in 1985. It involved. Each year to spend the winter in the warmer climate of Bharatpur revolutionized the rare Siberian cranes come here.

केवलादेव घना – यह राष्ट्रीय उद्यान भरतपुर राष्ट्रीय उद्यान के नाम से भी जाना जाता है। इसको 1982 में राष्ट्रीय उद्यान घोषित किया गया था, तथा इसे यूनेस्को की विश्व प्राकृतिक धरोहर सूची में 1985 में शामिल किया। भरतपुर की गर्म जलवायु में सर्दियां बिताने क्र लिए प्रत्येक वर्ष साइबेरिया के दुर्लभ सारस यहाँ आते है।

keoladeo-dense
keoladeo-dense

Baratha dam is located in the Bharatpur sanctuary, and the wolves are protected

बांध बैराठा यह अभ्यारण्य भरतपुर में स्थित है, तथा यहां भेडियों को संरक्षण दिया जाता है।

Lohagdh fort – This fort was built by Maharaja Suraj Mal Jat build the fortification it is famous for its impregnability. Jawahar Burj and the citadel is located, was built to commemorate the victory of Maharaja Jwahrsinh Delhi.

Parikh Durg – thus, like the fortification ditch around the fort -lohgdh

Deeg Fort – This fort was built in 1730 by Bdnsinh.

लोहागढ़ दुर्ग – इस दुर्ग का निर्माण जाट महाराजा सूरजमल ने करवाया था ओर यह दुर्ग अपनी अजेयता के कारण प्रसिद्ध है। तथा इस दुर्ग में जवाहर बुर्ज भी स्थित है जो महाराजा जवाहरसिंह ने दिल्ली विजय के उपलक्ष्य में बनवाया था।

पारिख दूर्ग – इस प्रकार दुर्ग के चारों ओर खाई होती है जैसे -लोहगढ़ दुर्ग

डीग का किला – यह किला बदनसिंह द्वारा 1730 में बनवाया गया था

Earnest Fort – the fort due to the high mountain fortress Durbedyta the king and the legend, also known by the name of Vijaygdh Sonitpur in earnest, Banpur, Sripur, etc. Sripnth stated. And earnest fortification built by the sea in the secret of the victory column which is Rajasthan’s first victory column.

Babur in 1527 and twice was war between Raana Sanga – The war in earnest in February 1527 Bharatpur, March 17, 1527 Khanwa war Bharatpur

Lakshmana Temple – Lakshmana temple was built in 1870 Jat Maharaja Balwant Singh.

बयाना का किला – यह किला ऊंचे पहाड़ पर होने के कारण दुर्भेद्यता के कारण बादशाह दुर्ग और विजयगढ़ के नाम से भी जाना जाता ओर पुराणो में बयाना को शोणितपुर, बाणपुर, श्रीपुर, श्रीपंथ आदि कहा गया है। तथा बयाना दुर्ग में समुद्र गुप्त द्वारा बनाया गया विजय स्तंभ है जो की राजस्थान का पहला विजय स्तंभ है।

1527 में बाबर व रााणा सांगा के मध्य दो बार युद्ध हुआ – फरवरी 1527 में बयाना का युद्ध भरतपुर, 17 मार्च 1527 खानवा युद्ध भरतपुर

लक्ष्मण मंदिर – लक्ष्मण मंदिर का निर्माण जाट महाराजा बलवंत सिंह ने 1870 में करवाया था।

Jlmahl of Deeg – Bharatpur Deeg is called the city of Jlmahlon. Jlmahl made between the two ponds, which were built by Maharaja Suraj Mal.

LAL Maid Creed – Nagla ship its principal seat is located in Bharatpur. Its founder Lal Das Ji.

Devbaba ji- His birth took place in Bharatpur ship Nagla Badr Shukla Panchami, the festival fills them. And the Gujjar caste is considered a deity. Hara -gwalon follow the nickname.

Notnki – it’s well-known folk theater in Bharatpur.

डीग के जलमहल – भरतपुर डीग को जलमहलों की नगरी भी कहा जाता है। यह दो तालाबों के मध्य बने जलमहल जिसे महाराजा सूरजमल द्वारा बनवाये गये थे।

लाल दासी सम्प्रदाय – इसकी प्रधान पीठ नगला जहाज भरतपुर में स्थित है। इसका संस्थापक लाल दास जी।

देवबाबा जी – इनका जन्म नगला जहाज भरतपुर में हुआ था ओर इनका मेला भाद्र शुक्ल पंचमी को भरता है। तथा ये गुर्जर जाति के आराध्य देव माने जाते है। ओर उपनाम -ग्वालों का पालन हारा।

नोटंकी – यह भरतपुर का प्रसिद्ध लोक नाट्य।

Brij Festival in Bharatpur district is created in February.

Jaswant cattle fair is = Celebrated in the Bharatpur district.

Epicure song – It Brij (Bharatpur) and Dholpur areas processional song.

Saver – Saver Here Bharatpur Central mustard research center was founded in 1993.

Rajasthan’s Bharatpur district in Rajasthan in the first place is the production of mustard.

Simgon wagon factory. It is located in Bharatpur district, a manufacturer of railway rolling stock, which closed on November 13, 2000 has been.

The Sansi tribe lives in Bharatpur district.

Rajasthan is one of the 4 cooperative animal feed center Nadbai (Ngbi) is located in Bharatpur district.

ब्रज महोत्सव भरतपुर जिले में फरवरी माह में बनाया जाता है।

जसवन्त पशु मेला = यह भरतपुर जिले में मनाया जाता है।

रसिया गीत – यह ब्रज (भरतपुर) व धौलपुर क्षेत्रों में गाया जाने वाला गीत है।

सेवर – यहा केन्द्रीय सरसों अनुसंधान केन्द्र सेवर भरतपुर की स्थापना 1993 में की गयी।

राजस्थान का भरतपुर जिला सरसों के उत्पादन में राजस्थान में प्रथम स्थान पर आता है।

सीमगों वेगन फैक्ट्री . यह भरतपुर जिले में स्थित रेल के डिब्बे बनाने का कारखाना जिसको 13 नवम्बर 2000 को बंद कर दिया गया है।

नोट सांसी जनजाति भरतपुर जिले मे निवास करती है।

राजस्थान के 4 सहकारी पशु आहार केन्द्र में से एक नदबई(नग्बई) भरतपुर जिले में स्थित है।


Bank PO clerk, SSC, Railway (RRB), IBPS, UPSC, IAS, RAS, SBI, 1st 2nd 3rd grade teacher,REET, TET, Rajasthan police SI, Delhi police, के महत्वपूर्ण सवाल जवाब के लिए रजिस्टर करे
आप करेंट अफेयर्स, Job, सामन्य ज्ञान ओर सभी exams संबंधित Study Material की जानकारी हैतु इस पेज को Like and Visit करे
https://www.facebook.com/myshort.Trick
and WWW.myshort.in

share..Share on Facebook0Share on Google+0Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn0