Rajasthan Agriculture राजस्थान में कृषि

Rajasthan Geography 0 Comments
Rajasthan Agriculture

Rajasthan Agriculture राजस्थान में कृषि

The total area of Rajasthan, 3 lakh 42 thousand 2 hundred 39 sq.km. is. This country is 10.41%. In Rajasthan, 11% of the country’s arable land area and 50% of gross irrigated area in the state, while 30% net irrigated area.

राजस्थान का कुल क्षेत्रफल 3 लाख 42 हजार 2 सौ 39 वर्ग कि.मी. है। यह  देश का 10.41 % है। राजस्थान में देश का 11 % क्षेत्र कृषि योग्य भूमि है और राज्य में 50 % सकल सिंचित क्षेत्र है जबकि 30 % शुद्ध सिंचित क्षेत्र है।

60% and 10% of the Rajasthan desert area is part of the mountainous region. So agriculture can not be done, lack of irrigation and desert land is found. Most farming in Rajasthan due to rain-fed agriculture in Rajasthan is called gambling monsoon

राजस्थान का 60 % क्षेत्र मरूस्थल भाग और 10 % क्षेत्र पर्वतीय भाग है। अतः कृषि कार्य संपन्न नहीं हो पाता है और मरूस्थलीय भूमि सिंचाई के साधनों का अभाव पाया जाता है। अधिकांश खेती राजस्थान  में वर्षा पर निर्भर होने के कारण राजस्थान  में कृषि को मानसून का जुआ कहा जाता है।

Rajasthan Agriculture
Rajasthan Agriculture

The Type of agriculture (कृषि के प्रकार)

(1) Dry farming

(2) Sicit agriculture

(3) Mixed farming

Rabi October, November and January February

Kharif June, July and September-October

Zayed crop March, Aperl, and June, July

Ravi also called Unalu crop.

The KMS Syalu / Savnu called crop.

Sun – wheat, barley, gram, mustard, lentils, peas, linseed, Taramira, sunflower, etc. are the major crops.

KMS – millet, sorghum, peanuts, cotton, maize, sugarcane, soybean, rice is the main crop, etc. etc.

Zayed – melons, watermelon, cucumber, etc. are the major crop

(1) शुष्क कृषि

(2) सिचित कृषि

(3) मिश्रित कृषि

रबी की फसल        October, November and January February

खरीफ की फसल     June, July and September-October

जायद की फसल      March,Aperl ,and June , July

रवि को उनालु  की फसल भी कहा जाता है।

खरीफ को स्यालु/सावणु की फसल भी कहा जाता है।

रवि – गेहूं जौ, चना, सरसो, मसूर, मटर, अलसी, तारामिरा, सूरजमुखी आदि प्रमुख फसल है।

खरीफ – बाजरा, ज्वार, मूंगफली, कपास, मक्का, गन्ना, सोयाबीन, चांवल आदि आदि प्रमुख फसल है

जायद – खरबूजे, तरबूज ककडी आदि प्रमुख फसल है

The format of crops (फसलों का प्रारूप)

Food crops (57 percent), cash / commercial crops (43 percent)

Wheat, which, sorghum, maize, sugar cane, cotton, tobacco

Millet, Chavanl, Dhlne oilseeds, mustard, rye

Mode, Tue, Udd Taramira tur, castor, mung

Lentils, rice, etc. Sesame, Soybean, (Jojoba)

Note: The average size of 3.96 hectares agricultural nation. Is highest in the country. 2/3 of the total area (65 percent) are sown in kharif season

खाद्यान्न फसले (57 %)     नकदी/व्यापारिक फसले (43 %)

गेहूं,जो,ज्वार, मक्का                गन्ना, कपास, तम्बाकू

बाजरा,चावंल,दहलने               तिलहन, सरसों, राई

मोड,मंग,अरहर उड्द               तारामिरा, अरण्डी, मूंग

मसूर चांवल इत्यादि                तिल, सोयाबीन, (जोजोबा)

नोट- राज्य में कृषि जाति का औसत आकार 3.96 हैक्टेयर है। जो देश में सर्वाधिक है। कुल क्षेत्र का 2/3 भाग (65 प्रतिशत) खरीफ के मौसम में बोया जाता है।

Production Krantian (उत्पादन क्रान्तियां)

1 is associated with the Green Revolution in food

2 is related to milk white revolution

3 Yellow Revolution oilseeds (rapeseed) is related to

4 blue revolution is related to fisheries

5 pink shrimp is associated with revolution

6 Black (Krishna), petroleum products (petrol, diesel, kerosene) is concerned with

7 red revolution is related to tomatoes

8 golden egg is associated with homegrown revolution

Farmi 9 silver egg is associated with revolution.

10 brown revolution is related to food processing

11 Badami revolution is related to spices

12 gray cement is concerned with revolution

13 goals is related to the potato revolution

14 rainbow revolution is associated with all agricultural production

1  हरित क्रांति              खाद्यान्न से सम्बंधित है

2  श्वेत क्रांति               दुग्ध से सम्बंधित है

3  पीली क्रांति              तिलहन (सरसों) से सम्बंधित है

4  नीली क्रांति              मत्स्य से सम्बंधित है

5  गुलाबी क्रांति           झींगा से सम्बंधित है

6  काली (कृष्ण)           पेट्रोलियम (पैट्रोल, डीजल, केरोसीन) से सम्बंधित है

7  लाल क्रांति               टमाटर से सम्बंधित है

8   सुनहरी क्रांति           देसी अण्डा से सम्बंधित है

9   रजत क्रांति              फार्मी अण्डा से सम्बंधित है

10 भूरी क्रांति                खाद्य प्रसंस्करण से सम्बंधित है

11   बादामी क्रांति           मसाला उत्पादन से सम्बंधित है

12  स्लेटी क्रांति             सीमेण्ट से सम्बंधित है

13  गोल क्रांति               आलू से सम्बंधित है

14   इन्द्रधनुष क्रांति      सभी कृषि उत्पादन से सम्बंधित है

Production Krantian
Production Krantian

मसाला उत्पादन (Spice production)

India occupies first place in the world spice production. Rajasthan in India is the first spice production. But the Kerala State tops hot spices. Kerala is also known as India’s Spice Park. Banra district in the state’s south-east of the state in the first place is the spice production. Rajasthan is the first spice park -jalawad.

विश्व में मसाला उत्पादन में भारत प्रथम स्थान रखता है। भारत में राजस्थान मसाला उत्पादन में प्रथम है। किन्तु गरम मसालों के लिए केरल राज्य प्रथम स्थान पर है। केरल को भारत का स्पाइस पार्क भी कहा जाता है। राज्य में दक्षिण-पूर्व का बांरा जिला राज्य में मसाला उत्पादन में प्रथम स्थान पर है। राजस्थान का प्रथम मसाला पार्क -झालावाड़ में है।

Spices most productive district

Pepper production is highest in Jodhuprjile

Coriander is the largest producer in the district Banra

Fennel is the largest producer in Kota

Jira, is the largest producer in Jalore district isabgul

Turmeric, ginger is the largest producer in the Udaipur district

Matthey is the largest producer in Nagaur district

Garlic production is the highest in the district Cittadgdh

Fruit production is the largest producer in Ganganagar district

Fruits most productive district

Most grape production in Sri Ganganagar district

Most production in Sri Ganganagar district Kinnu

Malta is the largest producer in Sri Ganganagar district

Seasonal produce is the highest in Sri Ganganagar district

Orange Jhalawar (Rajasthan Nagpur) is the largest producer in the district

Most production is in Sirohi district naseberry

Apple Mount Abu (Sirohi) is the largest producer in the district

Most citrus production in Dholpur district

Most production is common in Bharatpur district

Banana production is highest in Banswara district

Most production is in Jaypurjile Nashpti

Mtira Jaipur / Bikaner is the largest producer in the district

Papaya / watermelon production is the highest in the district

durgapura Central Agricultural Research Institute (Jaipur) is the largest producer in the district

मसाले     सर्वाधिक उत्पादक जिला

मिर्च                          जोधुपरजिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है

धनियां                      बांरा जिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है

सोंफ                           कोटा जिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है

जिरा, इसबगोल       जालौर जिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है

हल्दी, अदरक          उदयपुर जिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है

मैथी                          नागौर जिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है

लहसून                     चित्तैडगढ़ जिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है

फल उत्पादन           गंगानगर जिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है

फल        सर्वाधिक उत्पादक जिला

अंगूर        श्री गंगानगर जिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है 

कीन्नू      श्री गंगानगर जिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है 

माल्टा     श्री गंगानगर जिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है

मौसमी    श्री गंगानगर जिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है

संतरा       झालावाड़(राजस्थान का नागपुर) जिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है

चीकू         सिरोही जिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है

सेब          माउन्ट आबू (सिरोही) जिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है

नींबू         धौलपुर जिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है

आम        भरतपुर जिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है

केला        बांसवाडा जिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है

नाशपति  जयपुरजिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है

मतीरा      टोंक/बीकानेर जिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है

पपीता/खरबूजा       जिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है

केन्द्रीय कृषि अनुसंधान संस्थान -दुर्गापुरा (जयपुर) जिले मे सर्वाधिक उत्पादन होता है

Sugar is found only three in Rajasthan 

(1) Da Sea Bhupal Mewar Sugar Mills (Chittoor), 1932 is the private sector Mesnchalit

(2) Ganganagar Ganganagar Sugar Mills (1937 -1956 private public) sector is Mesnchalit

(3) The Sugar Mill Keshoraypatn Keshoraypatn (Bundi) 1965 co-operative sector is Mesnchalit

 

राजस्थान में मात्र तीन सुगर मिले है|

(1) दा मेवाड शुगर मिल भूपाल सागर (चित्तौड़) 1932 निजी  क्षेत्र मेसंचालित है

(2) गंगानगर शुगर मिल गंगानगर (1937 निजी -1956 में सार्वजनिक) क्षेत्र मेसंचालित है

(3) द केशोरायपाटन शुगर मिल केशोरायपाटन (बूंदी) 1965 सहकारी क्षेत्र मेसंचालित है

 

केन्द्रीय कृषि अनुसंधान संस्थान -दुर्गापुरा (जयपुर)

यांत्रिक कृषि फार्म

(1) सूरतगढ़ यांत्रिक कृषि फार्म – गंगानगर जिले मे स्थित है

(2) जैतसर यांत्रिक कृषि फार्म – श्रीगंगानगर जिले मे स्थित है  Note:एशिया का दूसरा सबसे बडा यांत्रिक फार्म

राजस्थान की मंडिया (Rajasthan Mondia)

Satra Bhawani Mandi Mandi (Jhalawar) is located in the district

Kinnu and Malta is located in Ganganagar district Mandi

Onion Market is located in Alwar district

Mandi is located in Sawai Madhopur district of guava

Plantago ovata (Godajira) Market Bhinmal (Jalore) is located in the district

Mandi is located in Bikaner district peanuts

Coriander Ramganj Mandi (quota) located in the district

Flower Market is located in the Ajmer District

Mandi Sojat Henna (shift) is located in the district

Garlic Market Ceepa Badud (Banra) is located in the district

Mandi Akgandha Jhālrapātan (Jhalawar) is located in the district

Tomato Market Bassi (Jaipur) is located in the district

Pepper’s Market is located in Tonk district

Peas (Bsedi) Bsedi (Jaipur) is located in the district

Tinda Mandi Shahpura (Jaipur) is located in the district

Mandi Sonamukhi Sojat (shift) located in the district

Amla Mandi Chomu (Jaipur) is located in the district

जीरा मंडी मेडता सिटी               (नागौर) जिले मे स्थित है

सतरा मंडी                                   भवानी मंडी (झालावाड) जिले मे स्थित है

कीन्नू व माल्टा मंडी                  गंगानगर जिले मे स्थित है

प्याज मंडी                                   अलवर जिले मे स्थित है 

अमरूद मंडी                                सवाई माधोपुर जिले मे स्थित है

ईसबगोल (घोडाजीरा) मंडी      भीनमाल (जालौर) जिले मे स्थित है 

मूंगफली मंडी                             बीकानेर जिले मे स्थित है

धनिया मंडी                               रामगंज (कोटा) जिले मे स्थित है

फूल मंडी                                    अजमेर जिले मे स्थित है

मेहंदी मंडी                                 सोजत (पाली) जिले मे स्थित है

लहसून मंडी                               छीपा बाडौद (बांरा) जिले मे स्थित है

अखगंधा मंडी                           झालरापाटन (झालावाड) जिले मे स्थित है

टमाटर मंडी                               बस्सी (जयपुर) जिले मे स्थित है

मिर्च मंडी                                  टोंक जिले मे स्थित है

मटर (बसेडी)                             बसेड़ी (जयपुर) जिले मे स्थित है

टिण्डा मंडी                                शाहपुरा (जयपुर) जिले मे स्थित है

सोनामुखी मंडी                         सोजत (पाली) जिले मे स्थित है

आंवला मंडी                             चोमू (जयपुर) जिले मे स्थित है

Rajasthan’s first private sector agriculture Mandi Kathun (kota) has been established by the company in A.W.P of Astelia. Production rose most in Rajasthan Pushkar (Ajmer) occurs. ROSE INDIA is the most famous of the rose. Cheti or decile rose cultivation in Rajasthan Kmnaugr (Rajsamand) grows.

राजस्थान में प्रथम निजी क्षेत्र की कृषि मण्डी कैथून (kota) में आस्टेलिया की A.W.P  कंपनी द्वारा स्थापित की गई है। राजस्थान में सर्वाधिक गुलाब का उत्पादन पुष्कर (Ajmer) में होता है। वहां का ROSE INDIA गुलाब अत्यधिक प्रसिद्ध है। राजस्थान मे चेती या दशमक गुलाब की खेती खमनौगर (Rajsamand) में होती है।

CAZRI (काजरी)

CAZRI (Kajri) in collaboration with UNESCO and Astelia TITUTE (Central Arid Zone Research Institute) founded in 1959 is headquartered in Jodhpur. Kajri desert to prevent the spread of the major functions, to promote the planting of trees and the desert area is to troubleshoot. The 5 sub – Bikaner, Jaisalmer, Pali, Bhuj, Ladakh

CAZRI (काजरी) आस्टेलिया यूनेस्कों के सहयोग से TITUTE (केन्द्रिय शुष्क क्षेत्र अनुसंधान केन्द्र) स्थापना 1959 इसका मुख्यालय जोधपुर मे है। काजरी का प्रमुख कार्य मरूस्थलीय प्रसार को रोकना, वृक्षा रोपण को बढावा देना और मरूस्थलीय क्षेत्र की समस्याओं का निवारण करना है। इसके 5 उपकेन्द्रबीकानेर, जैसलमेर, पाली, भुज, लदाख।

Note : In 1998 in all districts of Rajasthan Kajri service centers were set up at the Institute of Science 1998 में राजस्थान के सभी जिलों में काजरी संस्थान में ही विज्ञान सेवा केन्द्रो की स्थापना की गयी।

Rajasthan Agriculture
Rajasthan Agriculture

share..Share on Facebook0Share on Google+0Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn0