The major source of energy in Rajasthan राजस्थान में प्रमुख ऊर्जा के स्त्रोत

Indian Geography, Rajasthan Geography 0 Comments

The major source of energy in Rajasthan राजस्थान में प्रमुख ऊर्जा के स्त्रोत

Rajasthan is the most important source of energy recovery

Heating electric energy source

Water source of electric energy

In Rajasthan, the most important potential source of energy

Solar energy source

Wind power energy source

Bio-energy sources of Gans

Rajasthan, with a potential for major energy sources in rural areas – Bayogans

Most major biogas plants in Rajasthan districts –

Udaipur district

Jaipur District

Another nuclear power plant in Rajasthan chief – Napla city (Banswara district construction 700 * 2-1400 in. Wa.).

Gans based on Naphtha and major electricity plant in Rajasthan – Dholpur (110 * 3-330 in. Wa.)

In Rajasthan, the first major electricity plant based on natural Gans – Ramgarh town (in Jaslmer district).

In Rajasthan, the first major electricity plant based bio-gas – Padmapur city (in Ganganagr district)

राजस्थान के सर्वाधिक प्रमुख ऊर्जा प्राप्ति वाले स्त्रोत

ताप विधुत  ऊर्जा के स्त्रोत

जल विधुत र्जा के स्त्रोत

राजस्थान में सर्वाधिक प्रमुख ऊर्जा की संभावना वाला स्त्रोत

सौर ऊर्जा र्जा के स्त्रोत

पवन ऊर्जा र्जा के स्त्रोत

बायो गैंस र्जा के स्त्रोत

राजस्थान में ग्रामिण  क्षेत्रों में प्रमुख ऊर्जा की संभावना वाला स्त्रोत – बायोगैंस

राजस्थान में सर्वाधिक प्रमुख बायोगैस प्लांट वाले जिले –

उदयपुर जिला

जयपुर जिला

राजस्थान में दुसरा परमाणु प्रमुख ऊर्जा सयंत्र – नापला शहर (बांसवाड़ा जिले में निर्माणधीन 700*2 – 1400 मे. वा.)।

राजस्थान में नेप्था एवं गैंस पर आधारित प्रमुख विधुत सयंत्र – धौलपुर(110*3 – 330 मे. वा.)

राजस्थान में प्राकृतिक गैंस पर आधारित प्रथम प्रमुख विधुत सयंत्र – रामगढ़ शहर (जैसलमेरजिले में )।

राजस्थान में प्रथम बायो गैस आधारित प्रमुख विधुत सयंत्र – पदमपुर शहर (गंगानगरजिले में )

बायोमास गैस (Biomass Gas)

Bbul cherry, rice bran, sesame and mustard gas Tudi, etc. produced by the biomass is created.

Rajasthan lignite coal-based electricity Syntr- Girl major cities (250 in Barmer district. Wa. 2 Unit 125) is.

विलायती बबुल, चावल भूसी, तिल और सरसों की तुड़ी आदि से निर्मित करके बायोमास गैस बनाई जाती है।

राजस्थान में लिग्नाइट कोयले पर आधारित प्रमुख विधुत सयंत्र- गिरल शहर (बाड़मेर जिले में 250 मे. वा. 2 इकाई 125) है।

राजस्थान में वर्तमान में दो प्रमुख सुपर थर्मल पावर प्लांट कार्यरत है। (Currently two major super thermal power plant in Rajasthan is employed.)

Surtgdh (in Ganganagr district)

Kota Thermal (Kota district)

Super Thermal Pavr – their capacity is more than 1,000.

सुरतगढ़(गंगानगरजिले में)

कोटा थर्मल(कोटा जिले में)

सुपर थर्मल पाॅवर – इनकी क्षमता 1000 से अधिक होती है।

राजस्थान में वर्तमान में चार क्रिटिकल सुपर थर्मल पावर प्लांट निर्माणाधिन है।

Super Critical Thermal Power Plant in Rajasthan Nirmanadin is currently four.

Surtgdh (Ganganagar district)

Cbra (in Banrajile)

Kali Sindh (Jhalawar district)

Banswara district

Super Critical Thermal Power – including 500 in a unit capacity. Wa. Or more is

सुरतगढ़(गंगानगर जिले में)

छबड़ा(बांराजिले में )

काली सिंध(झालावाड़ जिले में)

बांसवाड़ा जिले में

क्रिटीकल सुपर थर्मल पावर – इनमें एक इकाई की क्षमता 500 मे. वा. या अधिक होती है

सौर ऊर्जा (Solar energy)

Rajasthan’s solar policy was announced on April 19, 2011.

Rajasthan, India became the first state to announce solar policy.

The first solar city in Rajasthan Balesar fridge (Jodpurjile) was founded in.

The first solar power plant in Rajasthan Mthania city (Jodpurjile) was established in.

In Rajasthan, the largest solar energy plant in Nijikshetr Kinvsr city (Nagaur district) was established in

First solar-powered boat, Lake Pichola in Rajasthan (Udaipur district) were fired at.

First Solar, based in Rajasthan Rawatbhatta Durdrshn relay center is located in the city of Chittorgarh.

Solar Energy Park in Rajasthan – Brala city (Jodhpur district) is located in.

In the solar energy sector undertaking Rajasthan (SEEZ) – Jaisalmer, Barmer, Jodhpur districts have been declared.

राजस्थान ने अपनी सौर नीति की घोषणा 19 अप्रैल 2011 मे की गयी थी ।

सौर नीति घोषित करने वाला राजस्थान भारत का प्रथम राज्य बना ।

राजस्थान में प्रथम सौर ऊर्जा फ्रिज बालेसर शहर (जोधपुरजिले ) में स्थापित किया गया।

राजस्थान में प्रथम सौर ऊर्जा सयंत्र मथानिया शहर (जोधपुरजिले ) में स्थापित किया गया था ।

राजस्थान में नीजिक्षेत्र में सबसे बड़ा सौर ऊर्जा सयंत्र खींवसर शहर (नागौर जिले) में स्थापित किया गया था ।

राजस्थान में सौर ऊर्जा चलित प्रथम नाव पिछोला झील(उदयपुर जिले) में चलाई गई।

राजस्थान में सौर ऊर्जा आधारित प्रथम दुरदर्शन रिले केन्द्र रावतभाटा शहर चित्तौड़गढ़ में स्थित है।

राजस्थान में सौर ऊर्जा पार्क – बड़ाला शहर (जोधपुर जिले) में स्थित है।

राजस्थान में सौर ऊर्जा उपक्रम क्षेत्र(SEEZ) – जैसलमेर, बाड़मेर, जोधपुर जिलो  को घोषित किया गया है।

Solar energy
Solar energy

पवन ऊर्जा (wind power)

Rajasthan government on July 18, 2012 wind power policy was announced.

In the public sector the leading wind energy plant – 1. Immortal Sea city, is located in Jaisalmer district.

Rajasthan is the first major wind power plant, was planted in 1999.

Deogarh town, was planted in Pratapgarh.

Phalodi town, Jodhpur district imposed.

राजस्थान सरकार ने अपनी पवन ऊर्जा नीति की घोषणा 18 जुलाई 2012 मे की गयी थी।

सार्वजनिक क्षेत्र में प्रमुख पवन ऊर्जा सयंत्र – 1. अमर सागर शहर, जैसलमेर जिले में स्थित है।

यह राजस्थान का प्रथम प्रमुख पवन ऊर्जा सयंत्र है, 1999 में लगाया था।

देवगढ़ शहर, प्रतापगढ़ में लगाया था।

फलौदी शहर, जोधपुर  जिले में लगाया था। 

(wind power)
(wind power)

राजस्थान विधुत नियामक प्राधिकरण(RERA)  (Rajasthan Electricity Regulatory Authority (RERA)

Its installation – January 2, 2000 was on.

Its headquarters – Jaipur

Its major task

Licensing of electricity in Rajasthan Kmpaniyon.

Unpe regulation and control of electric Kmpaniyon.

Electricity rates to go.

इसकी स्थापना – 2 जनवरी, 2000 मे की गयी थी।

इसका मुख्यालय – जयपुर

इसके प्रमुख कार्य

राजस्थान में विधुत कम्पनीयों को लाइसेंस देना।

विधुत कम्पनीयों का नियमन और उनपे नियंत्रण करना।

विधुत की दर तय करना।

राजस्थान में प्रमुख विधुत कम्पनीयां (Rajasthan Chief Electrical Company)

July 19, 2000 Rajasthan State Electricity Board (RSEB) by dissolving the following has been divided into five Company

Rajasthan Power Generation Corporation Limited, Jaipur

Rajasthan Electricity Transmission Corporation Limited, Jaipur

Jaipur Electricity Distribution Corporation Limited, Jaipur

Electricity Distribution Corporation Limited Ajmer, Ajmer

Jodhpur electricity distribution engulf Ltd., Jodhpur

19 जुलाई 2000 को राजस्थान राज्य विधुत मण्डल(RSEB) को भंग करके निम्न पांच कम्पनीयों में बांट दिया गया है।

राजस्थान विधुत उत्पादन निगम लिमिटेड, जयपुर

राजस्थान विधुत प्रसारण निगम लिमिटेड, जयपुर

जयपुर विधुत वितरण निगम लिमिटेड, जयपुर

अजमेर विधुत वितरण निगम लिमिटेड, अजमेर

जोधपुर विधुत वितरण निमग लिमिटेड, जोधपुर

राजस्थान अणु शक्ति सयंत्र(RAPP) (Rajasthan molecule power plant (RAPP)

Established – 1973 in collaboration with Knadh.

Its headquarters – Rawatbhatta, located in Chittorgarh district.

Uranium-it. Nuclear energy is based on.

Its capacity – 1350 MW Bati has a total of 6 units.

In India Tarapur (Maharashtra) is the second largest nuclear power plant.

इसकी स्थापना – 1973 कनाड़ के सहयोग से की।

इसका मुख्यालय – रावतभाटा, चित्तौड़गढ़ जिले में स्थित  है।

यह- यूरेनियम। नाभिकीय ऊर्जा पर आधारित  है।

इसकी क्षमता – 1350 मे.वा. की कुल 6 इकाईयां बाटी गयी है।

यह भारत में तारापुर(महाराष्ट्र) के बाद दुसरा सबसे बड़ा परमाणु ऊर्जा सयंत्र है।

Rajasthan molecule power plant (RAPP)
Rajasthan molecule power plant (RAPP)

सुरतगढ़ सुपर थर्मल पाॅवर प्लांट

Power Surtgdh Super Thermal Plant

Its headquarters – Surtgdh, located in Ganganagar district.

Rajasthan is the first super thermalPower Plant.

Rajasthan is the largest of the Power Plant.

The liquid fuel-and lignite coal it

Its capacity – 1500. Wa. A total of 6 units (250’6 – 1500) is Bati.

Construction – in 660-660. Wa. 7 and 8 units

Note: This modern Vicastirth of Rajasthan says.

इसका मुख्यालय – सुरतगढ़, गंगानगर जिले में स्थित  है।

यह  राजस्थान का प्रथम सुपर थर्मल पाॅवर प्लांट है।

यह  राजस्थान का सबसे बड़ा विधुत सयंत्र है।

यह  तरल ईंधन एवम् लिग्नाइट कोयला यह

इसकी क्षमता – 1500 मे. वा. की कुल 6 इकाईयां (250’6 – 1500 )बाटी गयी है।

निर्माणधीन – 660-660 मे. वा. की 7 व 8 इकाई

Note: इसको राजस्थान का आधुनिक विकासतीर्थ कहते हैं।

कोटा सुपर थर्मल पावर प्लांट (Kota Super Thermal Power Plant)

Its headquarters – located in Kota district.

Rajasthan is the second Super Thermal Power Plant.

Rajasthan is the second largest electricity plant.

The coal it

Its capacity – in 1240. Wa. Bati is in total 7 units

इसका मुख्यालय – कोटा जिले में स्थित  है।

यह राजस्थान का दुसरा सुपर थर्मल पावर प्लांट है।

यह राजस्थान का दुसरा बड़ा विधुत सयंत्र है।

यह  कोयला यह

इसकी क्षमता – 1240 मे. वा. की कुल 7 इकाईयां  में बाटी गयी है।

The major source of energy in Rajasthan
The major source of energy in Rajasthan

Bank PO clerk, SSC, Railway (RRB), IBPS, UPSC, IAS, RAS, SBI, 1st 2nd 3rd grade teacher,REET, TET, Rajasthan police SI, Delhi police, के महत्वपूर्ण सवाल जवाब के लिए रजिस्टर करे
आप करेंट अफेयर्स, Job, सामन्य ज्ञान ओर सभी exams संबंधित Study Material की जानकारी हैतु इस पेज को Like and Visit करे
https://www.facebook.com/myshort.Trick
and WWW.myshort.in

share..Share on Facebook0Share on Google+0Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn0