What is The Origin of The Indus River

Description

Mansarovar Lake (मानसरोवर झील)

This lake is spread over an area of about 320 square kilometers. In its north is the Kailash mountain and the monastery in the west. It is situated at an altitude of approximately 4556 meters from the sea. Its perimeter is approximately 88 kilometers and the average depth is 90 meters

यह झील लगभग 320 वर्ग किलोमाटर के क्षेत्र में फैला हुआ है। इसके उत्तर में कैलाश पर्वत तथा पश्चिम में राक्षसताल है। यह समुद्रतल से लगभग 4556 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। इसकी परिमिति लगभग 88 किलोमीटर है और औसत गहराई 90 मीटर

Religious Aspects (धार्मिक पहलू)

Hindu religion it is considered sacred. Thousands of people attend Kailash Mansarovar Yatra every year for its philosophy. According to Hindu ideology, this lake was first born in the mind of Lord Brahma. The Sanskrit word Mansarovar, Manas and Sarovar is made up of which literally means - Lake of mind. Here the right hand of Goddess Sati's body was dropped. Therefore, here a stone rock is worshiped as its form. Here is the Shaktipeeth.

हिन्दू धर्म में इसे पवित्र माना गया है। इसके दर्शन के लिए हज़ारों लोग प्रतिवर्ष कैलाश मानसरोवर यात्रा में भाग लेते है। हिन्दू विचारधारा के अनुसार यह झील सर्वप्रथम भगवान ब्रह्मा के मन में उत्पन्न हुआ था। संस्कृत शब्द मानसरोवर, मानस तथा सरोवर को मिल कर बना है जिसका शाब्दिक अर्थ होता है - मन का सरोवर। यहां देवी सती के शरीर का दांया हाथ गिरा था। इसलिए यहां एक पाषाण शिला को उसका रूप मानकर पूजा जाता है। यहां शक्तिपीठ है।

It is also considered sacred in Buddhism. It is said that Queen Maya was identified by Lord Buddha here only. Jainism and local Bonga people of Tibet also consider it sacred. There are also many monasteries on the banks of this lake

बौद्ध धर्म में भी इसे पवित्र माना गया है। एसा कहा जाता है कि रानी माया को भगवान बुद्ध की पहचान यहीं हुई थी। जैन धर्म तथा तिब्बत के स्थानीय बोनपा लोग भी इसे पवित्र मानते हैं। इस झील के तट पर कई मठ भी हैं।