Which is India Highest Award

Description

Bharat Ratna (भारत रत्न)

Bharat Ratna is the highest civilian honor of India, this honor is given for national service. These services include arts, literature, science, public service, and sports. This honor was established by the then President of India, Shri Rajendra Prasad on 2 January 1954. Similar to other ornaments, this honor cannot be used as a title with the name.

भारत रत्न भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान है, यह सम्मान राष्ट्रीय सेवा के लिए दिया जाता है। इन सेवाओं में कला, साहित्य, विज्ञान, सार्वजनिक सेवा और खेल शामिल है। इस सम्मान की स्थापना 2 जनवरी 1954 में भारत के तत्कालीन राष्ट्रपति श्री राजेंद्र प्रसाद द्वारा की गई थी। अन्य अलंकरणों के समान इस सम्मान को भी नाम के साथ पदवी के रूप में प्रयुक्त नहीं किया जा सकता।

Initially, there was no provision to give this honor for posthumously, this provision was later added in 1955. Thereafter 13 persons were given this honor posthumously. Subhash Chandra Bose can be considered as the number of those who get posthumous honors after being declared honorable. Bharat Ratna can be given to only three persons in a year.

प्रारम्भ में इस सम्मान को मरणोपरांत देने का प्रावधान नहीं था, यह प्रावधान 1955 में बाद में जोड़ा गया। तत्पश्चात् 13 व्यक्तियों को यह सम्मान मरणोपरांत प्रदान किया गया। सुभाष चन्द्र बोस को घोषित सम्मान वापस लिए जाने के उपरान्त मरणोपरान्त सम्मान पाने वालों की संख्या 12 मानी जा सकती है। एक वर्ष में अधिकतम तीन व्यक्तियों को ही भारत रत्न दिया जा सकता है।

 

Note: Among the honors given by the Government of India for remarkable contributions are Padma Vibhushan, Padma Bhushan, and Padmashri respectively after Bharat Ratna.

उल्लेखनीय योगदान के लिए भारत सरकार द्वारा दिए जाने वाले सम्मानों में भारत रत्न के पश्चात् क्रमशः पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्मश्री हैं।