Rajasthan’s premier folk songराजस्थान के प्रमुख लोक गीत

Rajasthan Culture, Rajasthan GK 0 Comments

Rajasthan’s premier folk song राजस्थान के प्रमुख लोक गीत

(1) धुमर लोक गीत

This folklore by women in Rajasthan Teej festival Gangaur or Gumr processional song with dance through which the child seeks erotic means

यह लोकगीत राजस्थान मे स्त्रियों द्वारा गणगौर अथवा तीज त्यौहारों पर घुमर नृत्य के साथ गाया जाने वाला गीत है, जिसके माध्यम से बालिका श्रृंगारिक साधनों की मांग करती है।

(2) मूमल लोक गीत

This area of Jaisalmer in Rajasthan folklore popular song, which describes the beauty of Muml Lodrawa princess. This folklore is an erotic song.

यह लोकगीत राजस्थान के जैसलमेर क्षेत्र का लोकप्रिय गीत, जिसमें लोद्रवा की राजकुमारी मूमल का सौन्दर्य वर्णन किया गया है। यह लोकगीत एक श्रृंगारिक गीत है।

(3) चिरमी लोक गीत

This folklore Cirmi plant in Rajasthan Children’s Village bride addressing her brother and father used to describe the mood of the times is awaiting

यह लोकगीत राजस्थान मे  चिरमी के पौधे को सम्बोधित कर बाल ग्राम वधू द्वारा अपने भाई व पिता की प्रतिक्षा के समय की मनोदशा का वर्णन  किया जाता है

 (4) पंछीडा लोक गीत

Haduti Rajasthan folklore and popular songs of the region Dudadh festivals and fairs at which rhymes.

यह लोकगीत राजस्थान के  हाडौती तथा ढूढाड़ क्षेत्र का लोकप्रिय गीत जो त्यौहारों तथा मेलों के समय गाया जाता है।

(5) झोरावा लोक गीत

This area of Jaisalmer in Rajasthan popular folklore songs which the disconnection of the wife of her husband sings.

यह लोकगीत राजस्थान के  जैसलमेर क्षेत्र का लोकप्रिय गीत जो की पत्नी अपने पति के वियोग में गाती है।

(6) औल्यूंगीत लोक गीत

The folklore of Rajasthan popular song, which is sung sung daughter’s departure time.

यह लोकगीत राजस्थान का लोकप्रिय गीत है,जो की बेटी की विदाई के समय गाया गाया जाता है।

(7) सुवटिया लोक गीत

The folklore of the Mewar region of Rajasthan in northern husband disconnection by the Bhil tribe women sings the song.

यह लोकगीत राजस्थान के उत्तरी मेवाड़  क्षेत्र की  भील जाति की स्त्रियों द्वारा पति के  वियोग में यह गीत गाती है।

(8) पीपली लोक गीत

This folklore Marwar in Rajasthan, Bikaner and Shekhawati region by women during the rainy season in the song.

यह लोकगीत राजस्थान के मारवाड़, बीकानेर तथा शेखावटी क्षेत्र में वर्षा ऋतु के समय स्त्रियों द्वारा गया जाने वाला गीत है।

(9) सेंजा लोक गीत

This folklore is a wedding song, which is made by women to the good God wished.

यह लोकगीत एक विवाह गीत है, जो अच्छे वर की कामना हेतु महिलाओं द्वारा गया जाता है।

(10) लांगुरिया लोक गीत 

Folklore in the Karauli district of Rajasthan in Kaila Devi worship is called Oral Bktigeet which Languria.

यह लोकगीत राजस्थान मे करौली जिले की कैला देवी की अराधना में गाये जाने वाले भक्तिगीत  जो  लांगुरिया कहलाते है।

(11) गोरबंध लोक गीत

It Gorbnd folklore, (camel’s neck ornament) on the Marwar and jewelery song is sung in the Shekhawati region.

यह लोकगीत गोरबंध, (ऊंट के गले का आभूषण है) यह मारवाड़ तथा शेखावटी क्षेत्र में इस आभूषण पर गीत गाया जाता है।

(12) पणिहारी लोक गीत

The folklore of Rajasthan virtuous women have been told to stay firm on religion.

इस लोकगीत में राजस्थान की  स्त्रियों  की पतिव्रता धर्म पर अटल रहना बताया गया है।

(13) कुरजा लोक गीत 

The popular songs of Rajasthan, while addressing the Kurgan bird Virhnion rhymes in memory of his beloved.

यह  राजस्थान का लोकप्रिय गीत, जो कुरजां पक्षी को संबोधित करते हुए विरहणियों द्वारा अपने प्रियतम की याद में गाया जाता है।

(14)  जकडि़या  लोक गीत

This folklore Pirs (martyr) sing folk songs in praise of Jkdihya song is called.

यह लोकगीत पीरों(शहीद) की प्रशंसा में गाए जाने वाले लोकगीत जकडि़या गीत कहलाते है।

(15) पपीहा लोक गीत

Speaking to the popular songs of Rajasthan papeeha bird rhymes. Meet me in the garden of his beloved girlfriend prays.

यह  राजस्थान का लोकप्रिय गीत पपीहा पक्षी को सम्बोधित करते हुए गाया जाता है। जिसमें प्रेमिका अपने प्रेमी को उपवन में आकर मिलने की प्रार्थना करती है।

(16) कागा लोक गीत

The popular songs of Rajasthan in the omen of the coming of his beloved girlfriend holds and crows fly lure says.

यह  राजस्थान का लोकप्रिय गीत  मे जिसमें प्रेमिका अपने प्रिय के आने का शगुन मानती है और कौवे को लालच देकर उड़ने की कहती है।

(17) कांगसियों लोक गीत

The erotic lyrics of the popular song of Rajasthan यह  राजस्थान का लोकप्रिय गीत जो की श्रृंगारिक गीत है।

(18) हमसीढो लोक गीत

It Bhil of Rajasthan popular songs by women and men collectively sang the song on auspicious occasions.

यह  राजस्थान का लोकप्रिय गीत इसमे भील स्त्रियों  तथा पुरुषो द्वारा सम्मिलित रूप से मांगलिक अवसरों पर गाया जाने वाला गीत है।

(19) हरजस लोक गीत

It is a devotional song popular songs of Rajasthan, which is the devotion of Lord Rama and Krishna.

यह  राजस्थान का लोकप्रिय गीत एक भक्ति गीत है, जो भगवान राम व श्रीकृष्ण की भक्ति में गया जाता है।

(20) हिचकी लोक गीत

This popular song of Rajasthan Alwar Mewat region or area of popular songs.

यह लोकप्रिय गीत राजस्थान के मेवात क्षेत्र अथवा अलवर क्षेत्र का लोकप्रिय गीत है।

(21) जलो और जलाल लोक गीत

यह  राजस्थान का लोकप्रिय गीत विवाह के समय वधु पक्ष की स्त्रियां जब वर की बारात का डेरा देखने आती है तब यह गीत गाती है।

(22) दुप्पटा लोक गीत

यह  राजस्थान का लोकप्रिय गीत विवाह के समय दुल्हे की सालियों द्वारा गया जाने वाला गीत है।

(23) कामण लोक गीत

यह  राजस्थान का लोकप्रिय गीत  में  वर को जादू-टोन से बचाने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में स्त्रियों द्वारा गाया जाने वाला गीत है।

(24) पावणा लोक गीत

यह  राजस्थान का लोकप्रिय गीत विवाह के पश्चात् दामाद के ससुराल जाने पर भोजन के समय अथवा भोजन के उपरान्त स्त्रियों द्वारा गया जाने वाला गीत है।

(25) सिठणें लोक गीत

यह  राजस्थान का लोकप्रिय गीत गाली गीत जो विवाह के समय स्त्रियां हंसी-मजाक के उद्देश्य से गाती है।

(26) मोरिया लोक गीत

यह  राजस्थान का लोकप्रिय गीत  में ऐसी बालिका की व्यथा है, जिसका संबंध तो तय हो चुका है लेकिन विवाह में देरी है।

(27) जीरो लोक गीत

यह लोकप्रिय गीत राजस्थान के जालौर  जिले  का लोकप्रिय गीत है। इस गीत में स्त्री अपने पति से जीरा न बोने की विनती करती है।

(28) बिच्छुड़ो लोक गीत

यह लोकप्रिय गीत राजस्थान के  हाडौती क्षेत्र का लोकप्रिय गीत जिसमें एक स्त्री जिसे बिच्छु ने काट लिया है और वह मरने वाली है, वह पति को दूसरा विवाह करने का संदेश देती है।

 

 (29) रसिया लोक गीत

यह लोकप्रिय गीत राजस्थान के  ब्रज, भरतपुर जिले व धौलपुर जिले में गाया जाने वाला गीत है।

(30)  इडुणी लोक गीत

यह  राजस्थान का लोकप्रिय गीत को पानी भरने जाते समय स्त्रियों द्वारा गाया जाने वाला गीत है।

 (31) केसरिया बालम लोक गीत

यह  राजस्थान का लोकप्रिय गीत  एक प्रकार का विरह युक्त रजवाड़ी गीत है जिसे स्त्री विदेश गए हुए अपने पति की याद में गाती है।

(32) धुडला लोक गीत

यह लोकप्रिय गीत राजस्थान के   मारवाड़ क्षेत्र का लोकप्रिय गीत है, जो स्त्रियों द्वारा घुड़ला पर्व पर गाया जाता है।

(33) लावणी लोक गीत

यह  राजस्थान का लोकप्रिय गीत को लावणी से अभिप्राय बुलावे से है। नायक द्वारा नायिका को बुलाने के सन्दर्भ में लावणी गाई जाती है।

 

(34) ढोलामारू लोक गीत

यह लोकप्रिय गीत राजस्थान के  सिरोही क्षेत्र का लोकप्रिय गीत जो ढोला-मारू के प्रेम-प्रसंग पर आधारित है, तथा इसे ढाढ़ी गाते है।

(35) हिण्डोल्या लोक गीत

यह  राजस्थान का लोकप्रिय गीत को श्रावण मास में  राजस्थान की स्त्रियां झुला-झुलते समय यह गीत गाती है।

(36)  जच्चा लोक गीत

यह  राजस्थान का लोकप्रिय गीत को बालक के जन्म के अवसर पर गाया जाने वाला गीत है इसे होलरगीत भी कहते है।

More click Here:Rajasthan Chief Instrumentराजस्थान के प्रमुख वाद्य यंत्र

Rajasthan's premier folk song
Rajasthan’s premier folk song

Bank PO clerk, SSC, Railway (RRB), IBPS, UPSC, IAS, RAS, SBI, 1st 2nd 3rd grade teacher,REET, TET, Rajasthan police SI, Delhi police, के महत्वपूर्ण सवाल जवाब के लिए रजिस्टर करे
आप करेंट अफेयर्स, Job, सामन्य ज्ञान ओर सभी exams संबंधित Study Material की जानकारी हैतु इस पेज को Like and Visit करे
https://www.facebook.com/myshort.Trick
and WWW.myshort.in

share..Share on Facebook0Share on Google+0Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn0